अगर शरीर में दिखाई दें ये लक्षण तो समझ जाएं आपको है डायबिटीज, न करें नजरअंदाज

Spread the love

नई दिल्ली: मधुमेह मेटाबोलिक बीमारियों का एक समूह है, जिसमें व्यक्ति के खून में ग्लूकोज (ब्लड शुगर) का लेवल नॉर्मल से अधिक हो जाता है. ऐसा तब होता है, जब शरीर में इंसुलिन ठीक से न बने या शरीर की कोशिकाएं इंसुलिन के लिए ठीक से प्रतिक्रिया न दें. जिन मरीजों का ब्लड शुगर सामान्य से अधिक होता है वे अकसर पॉलीयूरिया (बार-बार पेशाब आना) से परेशान रहते हैं. जिन लोगों में डायबिटीज (Diabetes) की अधिक संभावना होती है, उनमें पहले से ही कई लक्षण सामने आते हैं. लेकिन, जानकारी न होने की वजह से लोग डायबिटीज के लक्षणों को पहचान नहीं पाते हैं और समय पर इलाज ना होने की वजह से डायबिटीज की गिरफ्त में आ जाते हैं. आइए जानें डायबिटीज के लक्षण क्या हैं (symptoms of diabetes).

-यूं तो भरपूर मात्रा में पानी पीना अच्छी सेहत के लिए बहुत जरूरी होता है. लेकिन अगर भरपूर मात्रा में पानी पीने के बाद भी आपको पानी पीने की अधिक जरूरत महसूस होती है तो ये चिंता का विषय हो सकता है.
-अगर आपके शरीर में कहीं घाव है और वो जल्दी ठीक नहीं हो रहा है तो ऐसा खून में शुगर लेवल बढ़ने की वजह से हो सकता है.

ये भी पढ़ें, आंखों में हो रही खुजली या जलन तो करें ये अचूक आयुर्वेदिक इलाज, रोशनी भी होगी तेज

-अगर आप अच्छे से खाना-पीना सब कर रहे हैं, लेकिन फिर भी आपका वजन अचानक कम होते जा रहा है तो संभल जाएं, क्योंकि यह डायबिटीज का लक्षण हो सकता है. 
-डायबिटीज के लक्षणों में एक लक्षण ये भी है कि इस बीमारी में आंखों की रोशनी पर फर्क पड़ता है और आपको धुंधला दिखाई देता है. इसलिए समय-समय पर अपने ब्लड शुगर की जांच जरूर कराते रहें.
-अगर पूरी नींद लेने के बाद भी आपको थकान महसूस होती है तो ये भी चिंता का विषय हो सकता है. दरअसल, डायबिटीज से पीड़ित लोगों के शरीर में कार्बोहाइड्रेट सही तरह से ब्रेक नहीं हो पाता है. इस वजह से खाने से मिलने वाली एनर्जी शरीर को पूरी तरह से नहीं मिलती है. एनर्जी न मिलने की वजह से शरीर में थकावट का एहसास होता है. अगर आपको भी अधिक थकान महसूस होती है तो बेहतर होगा आप अपनी जांच करा लें.

सेहत की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

(नोट: कोई भी उपाय करने से पहले डॉक्टर्स की सलाह जरूर लें) 




Source link

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *