आउटडोर वॉकिंग या Treadmill पर वॉक करना? क्या है बेहतर, जानें फायदे और नुकसान

Spread the love

नई दिल्ली: वॉकिंग एक बेहतरीन एक्सरसाइज है. अमेरिका के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) का सुझाव है कि हर व्यक्ति को रोजाना कम से कम 30 मिनट मध्यम गति से वॉकिंग (Walking) जरूर करनी चाहिए. ऐसा करने से आपका शरीर ऐक्टिव बना रहेगा और हार्ट डिजीज (Heart Disease) का खतरा कम होगा, ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) और ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar) को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी और कैलोरीज भी बर्न (Calories Burn) होंगी जिससे वेट लॉस (Weight Loss) में भी मदद मिलेगी. तो वॉक करना सेहत के लिए फायदेमंद है ये तो हम जानते हैं लेकिन घर के बाहर वॉक करना या घर के अंदर ही ट्रेडमिल कर वॉक करना क्या है बेहतर?

घर के बाहर वॉकिंग के फायदे और नुकसान

फायदे
– बाहर वॉक करने (Walking outside) पर कुछ बाधाओं का भी सामना करना पड़ता है जैसे- हवा का प्रतिरोध जिसके बाद आपको शरीर को आगे बढ़ने के लिए धक्का देना पड़ता है जिस कारण वॉक करने के दौरान आपको अधिक प्रयास करने की जरूरत होती है। जब शरीर अधिक ऊर्जा खर्च करता है तो कैलोरी भी ज्यादा बर्न होती है.

ये भी पढ़ें- किस उम्र के लोगों को कितनी देर तक सैर करनी चाहिए, जानें

– घर के बाहर वॉक करने पर हमेशा रास्ता एक समान नहीं होता, कहीं ऊंचा, कहीं नीचा, कहीं सीढ़ियां. इस वजह से मांशपेशियों को स्थिर बनाने और शरीर का बैलेंस मेंटेन रखने में मदद मिलती है. 

– कई स्टडीज में यह बात सामने आ चुकी है कि घर के बाहर प्रकृति के बीच वॉक करने, रनिंग करने या एक्सरसाइज करने से स्ट्रेस (Stress) कम होता है, डिप्रेशन (Depression) में कमी आती है और नेगेटिव इमोशन्स भी कम हो जाते हैं. इन सबका आपके शारीरिक और मानसिक सेहत पर बेहतर असर देखने को मिलता है.

नुकसान
– जोड़ों से रिलेटेड कोई बीमारी हो तो कॉन्क्रीट या फुटपाथ पर चलने की वजह से समस्याएं और बढ़ सकती हैं. बाहर चलते वक्त सुरक्षा का भी ध्यान रखें और वेदर का. अगर बहुत ज्यादा गर्मी, सर्दी या बारिश हो रही हो तो बाहर वॉक न करें.

ये भी पढ़ें- मॉर्निंग वॉक के ये फायदे देते हैं कई बीमारियों से छुटकारा

ट्रेडमिल पर वॉक करने के फायदे-नुकसान

फायदे
– ट्रेडमिल पर वॉक करने के दौरान आप बेहतर कंट्रोल (Better Contol) के साथ वॉक कर सकते हैं जो आपके लिए एक अच्छा वर्कआउट साबित हो सकता है. साथ ही चूंकि ट्रेडमिल घर के अंदर है तो अपने कंफर्ट के हिसाब से सुबह, दोपहर, शाम जब मन करे और किसी भी मौसम में वॉक कर सकते हैं. आप अपनी वॉकिंग स्पीड और वॉकिंग के तरीके को भी कंट्रोल कर सकते हैं.

– चूंकि ट्रेडमिल पर किसी तरह की कोई रूकावट नहीं होती इसलिए आप ट्रेडमिल पर लंबी दूरी तय करने की बजाए अधिक समय तक वॉक कर सकते हैं और आप चाहें तो तेज गति से चल (Walking Faster) सकते हैं. इस कारण आप ज्यादा कैलोरीज बर्न करके वेट लॉस कर सकते हैं.

– घर के बाहर वॉक करने के दौरान गाने सुनना, विडियो देखना कई बार खतरनाक साबित हो सकता है लेकिन घर में ट्रेडमिल पर वॉक करने के दौरान आप इंटरटेनमेंट के इन उपायों को आजमा सकते हैं.

ये भी पढ़ें- क्या आपको भी पानी लंबी उम्र तो तेज गति से चलें

नुकसान
– वॉक करने के दौरान ट्रेडमिल का हैंडरेल पकड़ने की वजह से कम कैलोरीज बर्न होती है और इसका वॉकिंग पॉस्चर (Walking Posture) पर भी बुरा असर पड़ता है. ट्रेडमिल पर ऊंचाई पर चढ़ने या नीचे उतरने जैसी सुविदाएं नहीं होती इसलिए घर के बाहर वॉक करने के सारे फायदे ट्रेडमिल पर नहीं मिल पाते.

आखिर में ये बातें याद रखें
वॉक करना और शरीर को मूव करना जरूरी है- फिर चाहे आप ट्रेडमिल पर वॉक करें या फिर घर के बाहर. दोनों के ही सेहत से जुड़े कई फायदे हैं. आप चाहें तो इन दोनों के बीच बैलेंस बनाकर भी चल सकते हैं. कभी ट्रेडमिल पर वॉक तो कभी घर के बाहर.

सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.




Source link

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *