कई पोषक तत्‍वों से भरा होता है कच्चा प्याज, खाने के साथ लेने से मिलता है भरपूर फायदा

Spread the love

नई दिल्ली: प्याज (Onion) सेहत और खूबसूरती का खजाना है. सोडियम, पोटेशियम, फोलेट्स, विटामिन ए, सी, और ई, कैल्शियम, मैग्नीशियम और फास्फोरस..ये वे कुछ पोषक तत्व हैं जो प्याज में पाए जाते हैं. प्याज में एंटी-इंफ्लेमेट्री (Anti-Inflammatory) गुण पाया जाता है. इसके अलावा इसमें एंटी-एलर्जिक (Anti-Allergic), एंटी-ऑक्सीडेंट (Anti-Oxidant) और एंटी-कार्सिनोजेनिक गुण भी होते हैं. प्याज में आयरन (Iron), फोलेट और पोटैशियम जैसे खनिज भी पर्याप्त मात्रा में होते हैं. प्याज एक सुपरफूड है. आईए जानते हैं कि खाना के साथ कच्चा प्याज खाने के क्या भरपूर फायदे हैं (Benefits of raw Onion). टेक्सास यूनिवर्सिटी, यूनिवर्सिटी ऑफ मेरीलेंड मेडिकल सेंटर,नेशनल ओनियन एसोसिएशन,अमेरिका की रिपोर्ट ने इन प्याज के गुणकारी लाभ अपनी रिपोर्ट (Report) में बताए है. 

हृ्दय के लिए गुणकारी है प्याज
कैंब्रिज यूनिवर्सिटी की एक रिपोर्ट के अनुसार प्याज में मौजूद फ्लेवोनोइड्स आपके शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करते हैं और थियोसल्फाइनेट्स रक्त की स्थिरता को सही रखने में मददगार है. इसके कारण, दिल के दौरे और स्ट्रोक का खतरा कई गुना कम हो जाता है. कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करती है. कच्चा प्याज खाने से आप कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की परेशानी से निजात पा सकते हैं. कच्चे प्याज में अमीनोएसिड पाया जाता है, जो खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करता है और अच्छे कोलेस्ट्रोल को बढ़ाता है.

कैंसर से लड़ने की क्षमता होती है तेज
कच्ची प्याज से कैंसर का उपचार, कच्ची प्यास में सल्फर की मात्रा काफी अधिक होती है, जो कैंसर सेल्स नहीं बढ़ने देती है. कच्ची प्याज खाने से कैंसर से लड़ने की क्षमता आती है और हेल्थ में भी काफी सुधार होता है.

पाचन में भी है फायदेमंद
कच्चा प्याज डाइजेशन में काफी मदद करता है. कच्चे प्याज में फाइबर की मात्रा काफी पाई जाती है, जिससे आपके पेट के अंदर चिपका हुआ खाना भी पूरी तरह डाइजेस्ट हो जाता है. कच्चा प्याज खाने से पेट की सफाई हो जाती है. ये कब्ज की शिकायत को दूर करती है. जिन लोगों को कब्ज की शिकायत है, वो रात के खाने में सलाद का इस्तेमाल करें.

ये भी पढ़ें, आपका Immunity System है कमजोर? इन बातों और सिग्नल से पहचानें

हड्डियों के लिए लाभदायक
अगर आप नियमित रूप से प्याज के सेवन करते हैं तो यह हड्डियों को मजबूत करने में आपकी मदद कर सकता है. वैसे तो हड्डियों के लिए डेयरी पदार्थों को ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन काफी हद तक प्याज समेत कई और खाने वाली चीजें भी हड्डियों को मजबूत करने में मददगार साबित हो सकती हैं. अमेरिकी कृषि विभाग (यूएसडीए) के अनुसार, सिर्फ एक प्याज में 25.3 मिलीग्राम कैल्शियम होता है. कैल्शियम मजबूत हड्डियों को बनाए रखने में मदद करता है, इसलिए अपने सलाद में प्याज जोड़ने से हड्डियों का स्वास्थ्य बेहतर हो सकता है.

ब्लड प्रेशर में फायदेमंद
ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के लिए कई चीजों का सेवन करने की सलाह दी जाती है. उनमें से एक कच्चा प्याज भी शामिल है. अगर आपको ब्लड प्रेशर की शिकायत है तो आप रोजाना कच्चा प्याज खा सकते हैं, इससे ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद मिल सकती है. कच्चे प्याज को अपने रोजाना खाने के साथ सलाद में शामिल करें.

बालों की सेहत के लिए बेहतर
प्याज में एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो हमारे बालों के विकास को बढ़ाते हैं. इसमें मौजूद सल्फर तत्व बालों को थिक और  शाइनी बनाता है. साथ ही उनकी लंबाई को भी तेज़ी से बढ़ाता है. प्याज का रस सिर के ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है और स्कैल्प को मजबूत बनाता है. इससे आपके बाल स्वस्थ होते हैं और उनका विकास तेजी से होता है. समय से पहले बाल सफेद होना आज एक आम समस्या हो चुकी है. प्याज का रस लगाने से इस समस्या से भी निजात पाई जा सकती है. ये धीरे- धीरे बालों को सफेद होने से रोकता है. साथ ही सफेद हो चुके बालों को काला भी करता है. डैंड्रफ से स्कैल्प पर खुजली की शिकायत हो जाती है. इसे समय पर न रोका गया तो ये बालों को कई तरह के नुकसान भी पहुंचा सकती है.

रोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार करता है
मौजूदा समय में हर कोई रोग प्रतिरोधक क्षमता की बात करता है. प्याज आपको इसे मजबूत करने में भी मदद कर सकती हैं. जर्नल ऑफ मीडिएटर्स ऑफ इंफ्लमेशन में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, प्याज की रासायनिक संरचना इतनी मजबूत है कि यह इम्‍यूनिटी बढ़ाने में मदद करती है और इसमें कैंसर विरोधी गुण भी है.

ये भी पढ़ें, खुद को रखना चाहते हैं फिट? तो जानें दिन में कितनी बार खाएं जिससे बनी रहे सेहत

श्वसन तंत्र के लिए है फायदेमंद

जर्नलफार्मास्युटिकल साइंसेज पत्रिका में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, प्याज खाने से  ट्रेकेआ की मांसपेशियों को आराम मिलता है, जो अस्थमा के रोगियों को आसानी से सांस लेने में मदद करता है. यह फ्लेवोनॉइड्स की उपस्थिति के कारण होता है. 

डायबिटीज के लिए लाभकारी
हाल ही में जारी किए गए रिसर्च की माने तो क्वीरसेटिन से डायबिटीज को नियंत्रित रखने में सहायता मिलती है. जर्नल फाइटोफोरा थैरेपी में छपी एक स्टडी में कहा गया है कि रोजाना 500 मिलीग्राम या इससे अधिक आठ सप्ताह में  क्वीरसेटिन की खुराक लेने से डायबिटीज के रोगियों में बढ़ते ब्लड शुगर का स्तर कम हो जाता है. प्याज में  क्वीरसेटिन और सल्फर के होने के कारण वह डायबिटीज के रोगियों के लिए काफी फायदेमंद है.

सेहत की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 




Source link

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *