कोरोना: वैज्ञानिक का दावा, अगली सर्दियों तक राहत नहीं; टीके को लेकर कही ये बात

Spread the love

नई दिल्लीः फाइजर (Pfizer) कोविड-19 वैक्सीन को बनाने वाले प्रमुख वैज्ञानिक ऊर साहिन (Ugur Sahin) ने चेतावनी दी है कि अगली सर्दियों से पहले लोगों को कोरोना से राहत नहीं मिलने वाली. कंपनी की तरफ से यह भी कहा गया है कि सब कुछ सही रहा तो इसी साल के आखिर तक, दिसंबर में वैक्सीन की डिलिवरी शुरू हो सकती है.

दिसंबर या अगले साल तक लग सकते टीके
फाइजर (Pfizer) और बायोएनटेक (Bioentech) द्वारा विकसित किया जा रही कोविड वैक्सीन (Covid vaccine) के सारे ट्रायल अगर सही रहे तो इस साल के अंत तक या अगले साल की शुरुआत में टीका लोगों को लगाया जा सकता है. बायोएनटेक के सीईओ ने कहा है कि अगर सबकुछ सही से आगे बढ़ता रहा तो इसी साल के आखिर यानी दिसंबर माह में वैक्सीन की डिलिवरी शुरू हो जाएगी. उन्होंने कहा कि कंपनी का लक्ष्य अगले साल अप्रैल तक 30 करोड़ खुराक की डिलिवरी करने का है. 

ये भी पढ़ें-इस अछूते देश में कोरोना ने दी दस्तक, पहला केस मिलते ही लगाया गया Lockdown

फाइजर के साथ इजराइल ने किया समझौता
गौरतलब है कि पिछले सप्ताह बायोएनटेक और सह-निर्माता फाइजर ने कहा था कि उसके टीके के विश्लेषण से पता चला है कि यह 90 प्रतिशत से अधिक तक कोविड-19 से बचाने में कारगर हो सकता है. बता दें कि शुक्रवार को इजराइल ने भी फाइजर इंक कंपनी के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए, जिसके तहत COVID-19 वैक्सीन की 8 मिलियन खुराक  प्राप्त होगी. प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा, इस समझौते से इजरायल की आधी आबादी को कोविड-19 टीका मिल सकेगा. 

कोविड-19 कम करने में मददगार होगा गर्मी का मौसम 
बायोएनटेक के सह-संस्थापक और सीईओ प्रो. उगुर साहिन ने बताया, ‘गर्मी का मौसम हमारी मदद करेगा क्योंकि गर्मी में संक्रमण दर कम हो जाएगी और यह बहुत जरूरी है कि हम अगले साल सर्दियों से पहले टीकाकरण की उच्च दर को हासिल कर लें.’ साहिन ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि टीका लोगों के बीच संक्रमण को कम कर देगा और साथ ही साथ किसी ऐसे व्यक्ति में लक्षणों को विकसित होने से रोकेगा जिन्होंने टीका लगवा लिया होगा.

ये भी पढ़ें-RCEP में शामिल न होने के फैसले पर कायम भारत, किया ये नया समझौता

2008 में हुई थी  बायोएनटेक की स्थापना 
उन्होंने जानकारी दी है कि कई कंपनियां कोविड-19 वैक्सीन की आपूर्ति बढ़ाने को लेकर काम कर रही हैं लिहाजा हमारे लिए अगले साल की सर्दी सामान्य होगी. साहिन और उनकी पत्नी ओजलेम ट्यूरिस्की (Ozlem Tureci) ने साल 2008 में पश्चिमी जर्मन शहर मेंज में बायोएनटेक की स्थापना की थी.  बायोएनटेक के सीईओ ऊर साहीन ने कहा कि वैक्सीन की सफलता के लिए जरूरी है कि अगले साल सितंबर-अक्टूबर तक बड़े पैमाने पर लोगों को वैक्सीन दे दी जाए.




Source link

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *