पीरियड्स की ऐंठन से छुटकारा दिला सकता है भांग का तेल, हम बताते हैं इस्‍तेमाल का तरीका

Spread the love

 

PMS (Premenstrual syndrome) के लिए CBD ? यह सुनने में काफी पागलपंती भरा लग सकता है। लेकिन हम सिर्फ आपको यह सला दे रहे हैं कि आप ऐंठन की समस्या से राहत पाने के लिए इसका थोड़ा से इस्तेमाल कर सकती हैं। हम ऐंठन की समस्या से तुरंत राहत के लिए जिस चीज की सिफारिश कर रहें हैं वह है भांग या गांजा।

 

जिसे CBD के नाम से भी जाना जाता है। यह जड़ी बूटी आंतों में होने वाली मासिक धर्म की ऐंठन के लिए चमत्कारी दवा है, इसलिए यह पीरियडस के दौरान ऐंठन की समस्या से राहत पाने के लिए यह बहुत ही अच्छा उपाय है।

 

हम सभी यह अच्छी तरह जानते हैं कि जब गांजा या भांग (hemp) के प्रभावों की बात आती है तो इस मामले में इसकी प्रतिष्ठा बहुत ही खराब है। लेकिन अगर हम अध्ययनों की बात करें तो गांजा (hemp) चिकित्सीय गुणों का एक पावरहाउस है जो दर्द से राहत पहुंचाने के लिए जाना जाता है।

 

गांजे के बीज की तरह है फायदेमंद गांजे का तेल

 

गांजा (hemp) के बीज से निकाले गए कोल्ड-प्रेस्ड (cold-pressed) तेल में THC या कैनबिनोइड्स (cannabinoids) होते हैं। THC मूल रूप से माइंड को बदलने वाले गुणों वाला एक रसायन है जो आपका दर्द से ध्यान हटाता है। हालांकि एक हेम्प (hemp) सप्लीमेंट का इस्तेमाल करने से पहले आपको अपने डॉक्टर परामर्श लेने की आवश्यकता है।

 

कैनबिस और कैनाबिनोइड रिसर्च जर्नल (journal of Cannabis and Cannabinoid Research) में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, हेम्प (hemp ) उर्फ ​​सीबीडी (CBD) में मौजूद रासायनिक यौगिक शरीर में सूजन को रोक सकते हैं, जो कि पीरियड क्रैम्प्स के बिगड़ने के प्रमुख कारणों में से एक है।

 

यह भी पढ़ें: पीरियड ब्‍लड में से आ रहीं हैं दुर्गंध? तो इन 3 कारणों को चैक करना है जरूरी

 

शुक्र है कि कई भांग के तेल (hemp oil) हैं जो बाजार में आसानी से उपलब्ध हैं जिन्हें आप मूल रूप से इस्तेमाल कर सकती हैं। आपको बस भांग या गांजा के तेल (hemp oil) की कुछ बूंदें लेनी हैं, और उससे अपने पेट पर धीरे से मालिश करें, फिर 5 से 10 मिनट के लिए हीटिंग पैड का उपयोग करें।

 

आप मानें चाहे ना मानें, थोड़ी देर के बाद आप शायद ही किसी असुविधा या दर्द को महसूस करेंगी। साथ ही आप बिना किसी परेशानी के अपने रोजमर्रा के कामों को आसानी से कर पाएंगी।

 

गांजा के तेल के पीएमएस (PMS) संबंधी फायदे

 

पीएमएस (PMS) केवल ऐंठन के बारे में नहीं है। बल्कि इस दौरान अलग-अलग लोग अलग-अलग समस्याओं का अनुभव करते हैं जैसे कि नींद न आना, सिरदर्द और अत्यधिक तनाव। इन सभी समस्याओं से लड़ने के लिए भागं या गांजे का तेल (hemp oil) आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है।

 

2018 में प्रकाशित “ए क्रॉस-सेक्शनल स्टडी ऑफ कैनबिडिओल यूजर्स” (A Cross-Sectional Study of Cannabidiol Users) नामक एक शोध इन दावों की पुष्टि करता है।

 

वास्तव में, इस अध्ययन के अनुसार सीबीडी (CBD) का उपयोग चिंता (anxiety) और अवसाद (depression) के इलाज के लिए भी किया जा सकता है।

 

गांजा (hemp) के साइड इफेक्‍ट भी जान लें

 

गांजा या भांग (hemp) के अधिक उपयोग से कुछ दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं। उन सभी में सबसे बड़ी बात यह है कि अगर आप किसी प्रकार दवा का पहले से सेवन कर रहे हैं, तो ऐसे में भागं या गांजे का तेल (hemp oil) का सेवन करने से पहले आपको अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए।

 

क्योंकि यह संभावना है कि गांजा आपकी दवा के साथ प्रतिक्रिया कर सकता है और स्थिति को बदतर बना सकता है।

 

बहुत अधिक गांजा या भांग (hemp) भी अंग क्षति (organ damage) के साथ-साथ मिजाज (mood swings), भूख में कमी और आंत संबंधी समस्याओं को जन्म दे सकती है। इसलिए इसकी सही खुराक के बारे में जानना बहुत महत्वपूर्ण है।

 

यह भी पढ़ें: पीरियड्स मिस होने या ज्‍यादा होने के लिए जिम्‍मेदार हो सकते हैं ये 5 कारण

 

वास्तव में अगर मार्गदर्शन के तहत गांजा या भांग (hemp) का इस्तेमाल किया जाए, तो यह पीरियड्स की दर्दनाक ऐंठन से छुटकारा पाने के लिए एक प्राकृतिक और बेहतर तरीका है।

यह भी पढ़ें – अगर आपके मल्‍टीपल सेक्‍स पार्टनर हैं, तो एड्स के बारे में आपको जाननी चाहिए ये 8 बातें


Source link

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *