मलेरिया से हैं पीड़ित? जानें क्या करें डाइट में शामिल और किस चीज से करें परहेज

Spread the love

Food Recommendations in Malaria: मानसून शुरू होते ही कई तरह की बीमारियां और संक्रमण व्यक्ति को घेरने लगते हैं। इन्हीं संक्रमणों में से एक का नाम है मलेरिया। मलेरिया संक्रमित मादा एनाफिलीज मच्छर के काटने से होता है। ये एक ऐसा रोग है जिसमें व्यक्ति का इम्यून सिस्टम बहुत कमजोर हो जाता है। मलेरिया से पीड़ित रोगी में ठंड लगना, सिरदर्द, दस्त, उल्टी जैसे लक्षण नजर आते हैं। मलेरिया के रोगी को जल्दी ठीक होने के लिए इलाज के साथ अपने खान-पान पर भी विशेष ध्यान देना चाहिए।ऐसे में आइए जानते हैं वो कौन सी चीजें हैं, जिन्हें मलेरिया के रोगी को जल्दी स्वस्थ होने के लिए अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए और किन चीजों से करना चाहिए परहेज।   

मलेरिया में करें इन चीजों को डाइट में शामिल-
पौष्टिक आहार-

मलेरिया से पीड़ित व्यक्ति को हमेशा अपनी डाइट में पौष्टिक आहार शामिल करने चाहिए। इसके अलावा रोगी को अपने खानपान में उच्च कार्बोहाइड्रेट युक्त आहार का सेवन करना चाहिए। ताजे फल और सब्जियां मलेरिया के रोगियों के लिए  फायदेमंद होती हैं। 

तरल पदार्थ का करें ज्यादा सेवन- 
इस बुखार के दौरान आपको ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थ का सेवन करना चाहिए। ऐसे में आप ग्लूकोज का पानी, ताजे फलों का रस, नारियल पानी, नींबू, नमक, चीनी और पानी से बना शर्बत और पानी पी सकते हैं। ये सभी चीजें आपको जल्दी ठीक होने में मदद कर सकती हैं।  

प्रोटीन का सेवन-
शरीर प्रोटीन का सेवन ऊतक की मरम्मत और निर्माण प्रक्रिया के लिए करता है। प्रोटीन से भरपूर भोजन आपकी इम्यूनिटी बढ़ाकर परजीवियों से लड़ने में आपकी मदद करेगा।  

विटामिन सी से भरपूर खाद्य पदार्थ-
विटामिन सी और ए से भरपूर खाद्य पदार्थ जैसे पपीता, चुकंदर, और अन्य खट्टे खाद्य पदार्थ मलेरिया रोगी को आहार में शामिल करने चाहिए। 

क्या खाने से करें परहेज-
-मलेरिया के दौरान खानपान से जुड़ी कुछ खास बातों को जरूर ध्यान में रखना चाहिए, क्योंकि ये आपके स्वास्थ्य पर सीधा असर करती हैं। मलेरिया के दौरान अधिक फाइबरयुक्त खाद्य पदार्थ जैसे हरी पत्तेदार सब्जियां, मोटे छिलके वाले फल, साबुत अनाज का सेवन करने से बचना चाहिए। 
-ठंडा पानी बिल्कुल न पियें और ना ही ठंडे पानी से नहाएं।
-मैदे या अधिक मसालेदार भोजन का सेवन करने से बचना चाहिए। 
-मलेरिया के रोगी को अपनी डाइट में आम, अनार, लीची, अनन्नास, संतरा आदि शामिल नहीं करना चाहिए।  
-ठंडी तासीर के फल व पदार्थ जैसे-दही, शिकंजी, गाजर, मूली आदि न खाएं।




Source link

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *