ये लक्षण आपको बना सकते हैं Depression का शिकार, जानें बचने के घरेलू उपाय

Spread the love

नई दिल्ली: दुख, पीड़ा, बुरा महसूस करना और कोई भी काम करने में मन नहीं लगना, अमूमन ऐसा कभी न कभी हर किसी की जिंदगी में होता है. लेकिन यदि यह स्थिति लंबे समय तक बनी रहे तो यह डिप्रेशन या अवसाद (Depression) हो सकता है. आजकल का व्यस्त लाइफस्टाइल (Lifestyle) और भागदौड़ भरी जिंदगी इसका मुख्य कारण है.

डिप्रेशन के कारण इंसान की सोचने और समझने की क्षमता प्रभावित होती है, जिससे कई भावनात्मक और शारीरिक समस्याएं हो सकती हैं. डिप्रेशन का शिकार किसी भी उम्र के लोग हो सकते हैं यानी बूढ़े, जवान से लेकर बच्चे भी इसका शिकार हो सकते हैं. जानिए इसके लक्षण (Depression Cause) क्या हैं और डिप्रेशन के घरेलू उपाय के बारे में (Depression Home Remedies).

डिप्रेशन के लक्षण
-छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा आना, बेचैनी 
-उदासी, अशांति, खालीपन या निराशा की भावना
-सामान्य कार्यों में भी रूचि न होना या खुशी न मिलना
-नींद न आना या बहुत अधिक नींद आना
-थकावट और ऊर्जा में कमी, छोटे-छोटे कार्यों को करने में अधिक मेहनत लगना
-भूख और वजन में कमी होना या भूख या वजन का बढ़ना
-चिंता, उत्तेजना या बेचैनी
-सोचने, बोलने या कोई भी काम करने में समय लगना
-किसी भी कार्य के लिए अपने आप को अपराधी मानना
-ध्यान केंद्रित करने, निर्णय लेने और चीजों को याद रखने में समस्या होना
-मरने, खुदकुशी के ख्याल आना या खुदकुशी का प्रयास करना
-बिना मतलब के शारीरिक समस्याएं होना जैसे पीठ में दर्द या सिरदर्द 
-डिप्रेशन का शिकार व्यक्ति को रोजाना के कार्यों में समस्या होती है और वो बिना किसी कारण के ही दुखी रहते हैं

डिप्रेशन के घरेलू उपाय 

पौष्टिक भोजन
डिप्रेशन के घरेलू उपाय में है पौष्टिक आहार. कहा जाता है कि जो भी हम खाते हैं उसका प्रभाव हमारे तन और मन दोनों पर पड़ता है. ऐसे में डिप्रेशन से बचने के लिए आप अपने आहार में साबुत अनाज, फल, सब्जियों , प्रोटीन और अच्छे वसा को शामिल करें. इसके साथ ही अधिक मिर्च मसाले, नमक, चीनी, तले-भुने खाने का हमारे दिमाग पर बुरा प्रभाव पड़ता है, जिससे चिंता , तनाव या अवसाद की भावना बढ़ती है.

पर्याप्त नींद
डिप्रेशन के घरेलू उपाय में अगला उपाय है पूरी नींद लेना. स्वस्थ नींद संबंधी आदतें भी डिप्रेशन को दूर करने में प्रभावी है. रोजाना सोने और जल्दी उठने के समय को निर्धारित करें. याद रखें, नींद हमारे लिए आवश्यक है लेकिन अधिक नींद नहीं. रात को 10 बजे से पहले सोएं और सुबह 6 बजे सूर्य उदय से पहले उठे.

ये भी पढ़ें, गठिया रोगियों के लिए वरदान है अजवाइन और अदरक, इस तरह से करें इस्तेमाल

योग, ध्यान और व्यायाम 
ध्यान करना डिप्रेशन से बचने का सबसे अच्छा तरीका है. कुछ आसान ध्यान के तरीके आपके लिए लाभदायक सिद्ध हो सकता है. इसके साथ ही व्यायाम करने से भी शारीरिक और दिमागी स्वास्थ्य सही रहता है. इससे स्ट्रेस लेवल कम होता है और अगर किसी को डिप्रेशन है तो उसके लिए भी यह लाभदायक है. आप इसके लिए योग का सहारा भी ले सकते हैं.

अल्कोहल या ड्रग्स लेने से बचे 
अल्कोहल और ड्रग्स से डिप्रेशन के लक्षण बढ़ते हैं. अगर लम्बे समय तक ऐसा ही चलता रहे तो इसके लक्षण बदतर हो सकते हैं और डिप्रेशन का इलाज मुश्किल हो सकता है.

सेहत की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

(नोट: कोई भी उपाय करने से पहले डॉक्टर्स की सलाह जरूर लें)




Source link

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *