शरीर में ये लक्षण दिखने लगे तो समझ जाइए आप फल और सब्जियां नहीं खा रहे

Spread the love

नई दिल्ली: आपकी डाइट में लाल रंग टमाटर से, हरा रंग हरी सब्जियों से, भूरा रंग अनाज से और पीला रंग केले और संतरे से आना चाहिए. यानी कि जब आप इन सभी चीजों का सेवन करेंगे तो आपका शरीर एकदम स्वस्थ और बीमारी मुक्त रहेगा. लेकिन जब आपके शरीर को पर्याप्त मात्रा में फल और सब्ज्यिां (fruits and vegetable) नहीं मिलते तो शरीर कुछ संकेत देता है. आज हम आपको 5 ऐसे संकेत बता रहे हैं जो शरीर तब देता है जब हम फल और सब्जियां पर्याप्त मात्रा में नहीं ले रहे होते हैं. आइए जानते हैं…

थकान और कमजोरी
जब शरीर में फोलेट (folate) की कमी होने लगे तो थकान होने लगती है. हरी पत्तेदार सब्जियां, फलियां, काले मटर, किडनी बीन्स, लीमा बीन्स, नेवी बीन्स, शतावरी और दाल आदि में फोलेट होता है. इनके सेवन से आप पर्याप्त मात्रा में फोलिक एसिड प्राप्त कर सकते हैं.

मांसपेशियों में ऐंठन या दर्द
मांसपेशियों में ऐंठन या दर्द भी सब्ज्यिों के कम का एक संकेत हो सकता है. यदि आपको लगातार मांसपेशियों में ऐंठन हो रही है, तो यह आपके शरीर में पोटेशियम (potassium) की कमी का संकेत हो सकता है. हरी पत्तेदार सब्जियां जैसे पालक, स्विस चर्ड और शकरकंद पोटेशियम का सबसे अच्छा स्त्रोत हैं.

ये भी पढ़ें, रोजाना एक आंवला आपको दिलाएगा बड़ी बीमारियों से मुक्ति, बस इस तरह करें सेवन

चीजों का भूलना
वैसे तो चीजों का भूलना बहुत आम बात है. लेकिन जब यह बार-बार हो तो यह संकेत है कि आपकी ब्रेन हेल्थ सही नहीं है. जब आप बार-बार चीजों को भूलते हैं या बहुत सामान्य सी चीज को सोचने के लिए आपको दिमाग पर जोर देना पड़ता है तो यह आपके मस्तिष्क में पोषण की कमी का संकेत हो सकता है.

मसूड़ों से खून आना
मसूड़ों से खून आना खराब ओरल हेल्थ का एक लक्षण है. जब आप अपने मुंह की सही तरह से सफाई नहीं करतें तो बैक्टीरिया जमा हो जाते हैं. जिसके चलते भी खून आ सकता है. इसके अलावा जब शरीर में विटामिन सी की कमी होने लगती है तब भी मसूड़ों से खून आता है. विटामिन सी (vitamin-c) के लिए आप नींबू, लाल शिमला मिर्च, केल, लाल मिर्च मिर्च, अंधेरे पत्तेदार सब्जियां, ब्रोकोली और टमाटर का सेवन कर सकते हैं.

कब्ज या पेट में दर्द
सब्जियों और फलों का सेवन कर शरीर में फाइबर (fiber) की मात्रा को पूरा किया जा सकता है. सीजन के फल, ओट्स, नट्स, सीड्स, बीन्स दाल और मटर जैसे खाद्य पदार्थ में प्रचुर फाइबर होता है.

सेहत की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

(नोट: कोई भी उपाय अपनाने से पहले डॉक्टर्स की सलाह जरूर लें) 




Source link

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *