सर्दियों में किसी वरदान से कम नहीं है प्याज का सेवन, जानें कई गजब के फायदे

Spread the love

Weight Loss with Onion: किसी सब्जी का स्वाद बढ़ाना हो या फिर सलाद की प्लेट सजानी हो, दोनों ही चीजें प्याज के बिना अधूरी हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं इसके अलावा भी प्याज का सेवन करने के कई जादुई फायदे होते हैं, जिनके बारे में शायद ही आप जानते होंगे। जी हां सर्दियों में प्याज का सेवन न सिर्फ आपकी सेहत का ध्यान रखता है बल्कि आपकी मुसकुराहट भी खूबसूरत बने रहे, इसका भी ध्यान रखता है। आइए जानते हैं प्याज का सेवन करने के कुछ ऐसे ही गजब के फायदे।   

सर्दियों में शरीर को गर्म रखने के लिए अक्सर गर्म तासीर वाली चीजें खाने की सलाह दी जाती है। ऐसे आहार में प्‍याज का नाम भी शामिल है। सर्दियों में प्याज का सेवन करने से शरीर गर्म रहने के साथ कई तरह के संक्रमण और बीमारियों से भी बचा रहता है। 

प्याद का सेवन करने के कई गजब के फायदे-

-शरीर को गर्म रखता है प्याज-
प्याज की तासीर गर्म होती है। इसका सेवन करने से शरीर गर्म बना रहता है। प्राचीन चीनी उपचार पद्धतियों में भी प्याज के रस का उपयोग शरीर को गर्म रखने के लिए किया गया है। इतना ही नहीं चीन में तो प्याज को ऊर्जा का पावरहाउस तक माना जाता है।

-मौसमी संक्रमण से बचाता है-
प्याज एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीसेप्टिक और एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होता है। यही वजह है कि प्याज का सेवन सर्दियों में काफी लाभकारी माना जाता है। प्याज का सेवन करने से सर्दी, खांसी, कान का दर्द, बुखार और त्वचा की समस्याओं में भी राहत मिलती है। 

-दांतों की देखभाल 
कच्चे प्याज को चबाने से मुंह के स्वाद को संतुलित करते हुए मसूड़ों के संक्रमण  और मुंह के रोगों के खतरे को कम किया जा सकता है। 

स्तन कैंसर से बचाव-
कच्चे प्याज का सेवन करने से महिलाओं में स्तन कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है। 2008 से 2014 के बीच किए गए एक अध्ययन के अनुसार, देखा गया कि प्‍याज का सेवन करने से महिलाओं में स्‍तन कैंसर का खतरा कम हुआ। 

-बेहतर पाचन और वजन घटाने में मददगार-
प्याज फाइबर और प्री-बायोटिक्स का एक बड़ा स्रोत हैं, जो आंत के स्वास्थ्य के लिए बेहद आवश्यक माना जाता हैं। विशेषज्ञों की मानें तो प्री-बायोटिक्स आहार शरीर में कैल्शियम के अवशोषण में सुधार करने में मदद कर सकता है, जो मजबूत हड्डियों के लिए बेहद जरूरी है। लाल प्याज में क्वेरसेटिन नाम का फ्लेवोनॉइड होता है, जो शरीर के विभिन्न हिस्सों में वसा के संचय को रोकने में मदद करता है। यह फ्लेवोनॉइड चयापचय दर को बढ़ाता है।


Source link

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *