हमेशा ब्‍लैडर भरा हुआ लगता है, तो इसके पीछे हो सकते हैं ये 10 स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी कारण

Spread the love

यदि आप ये मान रही हैं कि अधिक पेशाब का मतलब बेहतर डिटॉक्स है, तो हम बता दें कि ऐसा नहीं है। क्योंकि लगातार पेशाब करना कई छिपी हुई स्वास्थ्य समस्याओं का संकेत भी हो सकता है। वास्तव में, कई बार स्थिति इतनी गंभीर हो सकती है, कि यह आप यूरिनरी ब्लैडर पर नियंत्रण खो देती हैं।

क्या आप जानती हैं कि महिलाओं को पुरुषों की तुलना में अधिक बार पेशाब करने की इच्छा महसूस होती है। इसीलिए आज हम इस मुद्दे पर चर्चा करना चाहते हैं, ताकि आप जान सकें कि आपके शरीर के साथ क्या हो रहा है।

 

बार-बार पेशाब आने के पीछे ये दस कारण हो सकते हैं:

 

1. आप को यूटीआई हो सकता है

यूटीआई यानी यूरिनरी ट्रैक्ट संक्रमण लगातार पेशाब आने के सबसे सामान्य कारणों में से एक है। दुर्भाग्य से, यह संक्रमण महिलाओं में बहुत आम है। सुल्तान कबूस यूनिवर्सिटी मेडिकल जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, लगभग 60 प्रतिशत महिलाएं यूटीआई से ग्रस्त होती हैं, और इस वजह से उन्हें अक्सर पेशाब आती है। यूटीआई आपके मूत्राशय को ट्रिगर करता है, जिसके कारण, आप अक्सर पेशाब करती हैं।

 

2. आप बहुत ज्यादा कॉफी पी रहीं हैं

कॉफी या ऐसी कोई भी चीज जो यूरिन बढ़ाती हो, आपको अधिक से अधिक पेशाब करवाएगी। मूल रूप से जब आप किसी भी ऐसे पेय को पीते हैं, तो आपकी किडनी अधिक सोडियम (नमक) छोड़ती है, जिसके कारण आप अधिक से अधिक पेशाब करने की इच्छा महसूस करते हैं।

इसलिए, यदि आप कॉफी को आवश्यक सीमा से अधिक पी रहे हैं, तो आप सामान्य से अधिक पेशाब करने के लिए बाध्य हैं।

 

 

3. आप तनावग्रस्त या चिंतित हैं

विशेषज्ञों के अनुसार, तनाव होना आपके मूत्राशय के लिए अच्छा नहीं है। यही कारण है कि यह अधिक पेशाब करने के लिए ट्रिगर हो जाता है। इसके कारण आप बार-बार पेशाब करते हैं।

 

यह भी पढ़ें : अगर आपका भी मूड नहीं बन रहा है, तो ये 6 टिप्स करेंगी आपको हॉर्नी महसूस करवाने में मदद

 

4. यदि आप गर्भवती हैं, तो बच्चे के कारण मूत्राशय पर दबाव पड़ रहा है

गर्भवती होने के दौरान पेशाब लीक होना बहुत आम है, और लगभग हर महिला इससे गुजरती है। असल में, जब भ्रूण बढ़ने लगता है, तो यह आपके मूत्राशय पर अतिरिक्त दबाव डालता है। इसलिए, जैसे ही आप अपने गले से कुछ नीचे उतारते हैं, आपके बच्चे द्वारा डाला गया दबाव आपको पेशाब करने पर मजबूर करता है।

 

इंटरनेशनल जर्नल ऑफ यूरिनरी साइंस में प्रकाशित एक समीक्षा भी बताती है कि गर्भवती महिलाओं में मूत्र असंयम अधिक आम है।

 

5. आपको मधुमेह हो सकता है

अधिकांश मधुमेह रोगी एक लक्षण के रूप में अत्यधिक प्यास रिपोर्ट करते हैं। इसके कारण, वे अधिक तरल पदार्थों का सेवन करते हैं, और यही कारण है कि वे बहुत बार पेशाब करते हैं। तो, अगर आप भी अक्सर पेशाब कर रहे हैं, तो अपने ब्लड शुगर की जांच करवाएं।

 

world diabetes day 2020

 

6. आपका मूत्राशय ओवररिएक्ट कर सकता है

ओवरएक्टिव ब्लैडर या OAB एक ऐसी स्थिति है, जब आपके मूत्राशय की मांसपेशियां अत्यधिक संवेदनशील हो जाती हैं। इस विकार में, आप अधिक बार पेशाब करने का आग्रह करते हैं। ऐसे लोग रात में भी, दो से अधिक बार पेशाब करने के लिए उठते हैं।

 

7. आपको वेजाइनिटिस हो सकता है

खमीर हो या बैक्टीरिया कोई फर्क नहीं पड़ता – अगर आपको योनि में संक्रमण है, तो यह बार-बार पेशाब करने का कारण बन सकता है। संक्रमण से निपटने के लिए आप जो गोलियां ले रहे हैं वह भी बार-बार पेशाब आने का कारण हो सकता है।

 

8. आपकी पैल्विक मांसपेशियां कमजोर हो सकती हैं

यहां तक कि विशेषज्ञों का मानना है कि कमजोर पेल्विक फ्लोर की मांसपेशियों से भी मूत्र असंयम हो सकता है। मूल रूप से, कमजोर पेल्विक मांसपेशियों के लिए लंबे समय तक मूत्र को कंट्रोल करना मुश्किल होता है। इसीलिए आपको तत्काल पेशाब करने की आवश्यकता होती है।

 

bleeding

 

9. आपको कब्ज हो सकती है

यदि आप की आंत साफ नहीं हैं, तो आपके मूत्राशय पर अतिरिक्त दबाव पड़ेगा। परिणामस्वरूप आपको अधिक बार टॉयलेट का उपयोग करने की आवश्यकता होगी। साथ ही, कब्ज के परिणामस्वरूप आपकी पेल्विक फ्लोर की मांसपेशियां कमजोर हो सकती हैं।

 

10. आपको नींद न आने की बीमारी हो सकती है

जब आप गहरी नींद में होते हैं, तो आपका शरीर आपके मस्तिष्क को ADH नामक हार्मोन जारी करने का निर्देश देता है। यह हार्मोन आपके शरीर को उस मूत्र पर पकड़ बनाने का निर्देश देता है, जब तक आप उठते नहीं हैं। लेकिन अगर आप नींद न आने की बीमारी जैसे स्लीप एपनिया से पीड़ित हैं, तो यह हार्मोन आपके शरीर द्वारा जारी नहीं किया जाएगा।

इसके कारण आपके शरीर में ऑक्सीजन का स्तर भी कम हो जाता है और आपकी किडनी को पानी छोड़ना पड़ता है। इससे आपको पेशाब लगती है।

तो डियर फ्रेंड्स अब आप जानती हैं कि बार-बार पेशाब आना वास्तव में आपके समग्र स्वास्थ्य के बारे में संकेत कर रहा है। इसलिए, आप जब वॉशरूम का उपयोग कर रहीं हैं तो उसकी संख्या पर ध्यान रखें, क्योंकि यदि यह एक दिन में छह से आठ बार है, तो यह ठीक है। यदि यह अधिक है, तो तुरंत अपने डॉक्टर से सम्पर्क करें।

 

यह भी पढ़ेंधोना या पोंछना : जानिए पेशाब करने के बाद क्‍या है योनि को साफ करने का सबसे सही तरीका


Source link

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *